टमाटर के हेलाहेल भाव से किसान परेशान, लागत भी निकलना मुश्किल

एक समय था जब मई 2022 में टमाटर के भाव प्रति किलो 40 से 60 रूपये प्रति किलो बिक रहे थे.

और एक आज का दिन है, दिसम्बर 2022 जब टमाटर 3 से 5 रूपये प्रति किलो बिक रहे हैं.

उत्तर प्रदेश के किसान टमाटर के इतने बुरे हालत को देखकर फसल की तुड़ाई भी बंद कर दिए हैं.

किसानों का कहना है की इतने सस्ते टमाटर के भाव होने से फसल तुड़ाई के लागत भी नहीं मिल पा रहा है.

इस वर्ष दिसंबर महीने की शुरुआत से ही टमाटर के भाव गिरे हुए हैं.

टमाटर किसानों का कहना है की इतने सस्ते टमाटर के भाव होने से बीज, खेत की जुताई, लेबर खर्च, पानी की सिंचाई, खाद और दवा इन सबकी लागत भी नहीं मिल पा रही है.

कुछ किसान तो यह उम्मीद लगाये बैठे हैं की उनकी टमाटर की खेती में लगने वाली लागत ही निकल मिल जाय.

छोटे किसान जैसे तैसे मंडियों में टमाटर बेचकर गुजारा कर रहे हैं.

परन्तु बड़े किसानों के टमाटर खेत में ही पककर सड़ने की कगार पर हैं.

वो भी एक समय था जब  टमाटर के भाव 40 से 60 रुपये किलो थे|