(uttar pradesh gopalak yojana 2022) गोपालक योजना उत्तर प्रदेश

(Gopalak Yojana), यूपी गोपालक योजना 2022, Gopalak Yojana Form, आवेदन प्रक्रिया ,पात्रता ,आवश्यक दस्तावेज़, Gopalak Yojana loan, गोपालक योजना up, uttar pradesh gopalak yojana Apply Online, प्रधानमंत्री गोपालक योजना.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी ने गोपालक योजना की शुरुआत up के बेरोजगार युवा किसान को रोजगार प्रदान करने के लिए किया है. UP Gopalak Yojana के अंतर्गत up राज्य के जो भी बेरोजगार युवा उद्यमी है, ऐसे लोग डेयरी फार्म खोलने के लिए लोन ले सकते हैं.

uttar pradesh gopalak yojana

UP के जितने भी बेरोजगार युवा हैं और अपनी खुद की रोजगार करना चाहते हैं तो ऐसे युवा इस योजना के तहत बैंक द्वारा लोन लेकर स्वरोजगार युवा बन सकते हैं. नमस्कार दोस्तों आज हम आपको इस पोस्ट में गोपालक योजना उत्तर प्रदेश से सम्बंधित सभी जानकारी देने जा रहे हैं. आशा करता हूँ की आपको यह आर्टिकल अच्छी लगेगी.

योजना का नाममुख्यमंत्री गोपालक योजना उत्तर प्रदेश
किसने शुरू कीमुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी
लाभार्थीup के बेरोजगार युवा किसान(उद्यमी)
उद्देश्यपशुपालन स्वरोजगार के लिए लोन प्रदान करना
विभागपशुपालन विभाग, up सरकार
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन/ऑफलाइन

uttar pradesh gopalak yojana क्या है?

गोपालक योजना उत्तर प्रदेश बेरोजगार युवाओ को स्वरोजगार बनाने के लिए सभी युवा उद्यमियों को बैंकों द्वारा 9 लाख रूपये तक का लोन मुहैया कराने निर्णय लिया है। Gopalak Yojana के अंतर्गत बैंक द्वारा लोन का लाभ केवल उन्हीं युवा पशुपालको को मिलेगा जिनके पास 5 पशु गाय या भैंस पहले से ही रहने चाहिए. या इससे भी अधिक जो पशुपालक 10 से 20 पशु रखने वाले हैं. उनको लोन लेने में और आसानी होगी.

यदि उत्तर प्रदेश का कोई भी उद्यमी अपना ख़ुद का डेयरी फॉर्म खोलकर पैसा कमाना चाहते हैं, और गोपालक योजना के तहत ऋण राशि लेना चाहते हैं तो सबसे पहले उनको अपने खुद के पैसे से 10 पशुओं के गणना से डेढ़ लाख रुपये(1.5lakh) की क़ीमत से पशुघर(मवेशीख़ाना) बनाना होगा. इसके बाद ही UP Gopalak Yojana में आवेदन करने के पात्र माने जायेंगे। और आसानी से लोन प्राप्त कर सकेगे.

मुख्यमंत्री गोपालक योजना उत्तर प्रदेश का मुख्य उद्देश्य

हमारे देश में आज भी बहुत से युवा ऐसे हैं जो पढ़े-लिखे हैं और उनके पास अच्छी खासी डिग्री भी है. लेकिन शिक्षित होने के बावजूद भी बेरोजगार हैं और छोटी-मोटे प्राइवेट नौकरी की तलाश में इधर-उधर घूम रहे हैं. बेरोजगार युवाओं के इस समस्या को देखते हुए उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने यू पी गोपालक योजना(पशुपालन योजना उत्तर प्रदेश 2021-2022) का शुभारम्भ किया है.

उत्तर प्रदेश के सभी इच्छुक बेरोजगार युवा uttar pradesh gopalak yojana के अंतर्गत डेयरी फार्म(dairy farm) खोलने के लिए बैंक से लोन लेने के लिए आवेदन पत्र भर सकते हैं. और एक छोटा डेयरी फार्म की शुरुआत कर सकते हैं. फिर धीरे-धीरे इस रोजगार को बड़े पैमाने पर ले जा सकते हैं.

गोपालक योजना उत्तर प्रदेश के लाभ(dairy yojna in up)

  • उत्तर प्रदेश के बेरोजगार युवाओ को बैंक द्वारा लोन देकर स्वरोजगार प्रदान करना.
  • डेयरी फार्म खोलने का अवसर प्रदान करना.
  • छोटे पशुपालक जिनके पास 10 -20 पशु हैं उनको भी गोपालक योजना का लाभ दिया जायेगा.
  • UP Gopalak Yojana के ज़रिये बैंक द्वारा 9 लाख रूपये तक का लोन प्रदान किया जायेगा.
  • कम से कम 5 पशु रखने वाले युवाओं को भी लाभ मिलेगा.
  • पशु ऐसे होने चाहिए जो दूध देने वाले पशु हों जैसे भैंस, गाय.
  • ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह आवेदन कर सकते हैं.

कौन होंगे यूपी गोपालक योजना के पात्र

  • ऐसे युवा जो बेरोजगार हों तथा उनके पास 5 पशु जरूर हों.
  • आवेदन करने वाला युवा उत्तर प्रदेश का निवासी हो.
  • up gopalak yojana का लाभ लेने के लिए आवेदक की सालाना आय 1 लाख रूपये से कम हो.
  • पशुपालको के पास पशु ऐसे होने चाहिए जो पशु दूध देने वाले हों.
  • 5 पशु से कम पशुपालको को इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा.
  • पशु स्वस्थ होने चाहिए और पशु मेले से पशु खरीदे हों

UP Gopalak Yojana 2022 के आवश्यक दस्तावेज़

  1. आवेदक का आधार कार्ड
  2. वोटर कार्ड (पहचान पत्र)
  3. रंगीन पासपोर्ट साइज फोटो
  4. उत्तर प्रदेश की पहचान के लिए तहसील द्वारा प्रमाणित निवास प्रमाण पत्र
  5. आय प्रमाण पत्र (वार्षिक आय 1 लाख से कम हो)
  6. मोबाइल नंबर जो बंद न हो
  7. पासपोर्ट साइज रंगीन फोटो

मुख्यमंत्री गोपालक योजना में आवेदन की प्रक्रिया

  1. UP Gopalak Yojana के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आवेदक अपने पास के चिकित्सा अधिकारी से आवेदन करने के लिए फार्म लाना होगा.
  2. फॉर्म में पूछी गयी सभी विकल्प को ठीक-ठीक भरकर अपने अनिवार्य आवश्यक दस्तावेज़ों की फोटो कॉपी को आवेदन फॉर्म के साथ पंचिंग करना होगा. (नाम , पता , मोबाइल नंबर , जिला , ब्लाक, गाँव का नाम पर्सनल डिटेल्स इत्यादि)
  3. उपर्युक्त प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद इस आवेदन फार्म को फिर उसी पशु चिकित्सा अधिकारी के पास जाकर जमा करना होगा.
  4. यहाँ से आपके आवेदन फॉर्म को चिकित्सा अधिकारी जाँच के लिए पशु चिकित्सा अधिकारी को भेजंगे.
  5. जाँच प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद आपके आवेदन फॉर्म को निदेशालय में भेज दिया जायेगा.
  6. इसके बाद सी.डी.ओ अध्यक्ष, सी.वी.ओ सचिव व नोडल अधिकारी द्वारा आपके आवेदन पर विचार किया जायेगा. और फिर आपके आवेदन को अप्रूवल दे दिया जाएगा.

FAQ

Q. पशुपालन के लिए कौन सी योजना चल रही है?

ANS. पशुपालन के लिए गोपालक योजना चल रही है.

Q. गोपालक योजना क्या है?

ANS. यह एक ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत यूपी सरकार राज्य के बेरोजगार युवाओ को डेयरी फार्म रोजगार से जोड़ने राज्य के बेरोजगार युवाओ को बैंक से 9 लाख रूपये लोन प्रदान कर रही है. जिससे up के शिक्षित युवा स्वरोजगार हो सकें.

यह भी पढ़ें.

कृषि विभाग हेल्पलाइन नंबर up

कृषि यंत्रों पर अनुदान छूट के लिए आवेदन

कृषि उड़ान योजना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here