पीएम किसान एफपीओ योजना क्या है | एफपीओ कैसे बनाएं

पीएम किसान एफपीओ योजना क्या है | एफपीओ कैसे बनाएं, PM Kisan FPO Yojana online apply

किसानों की आर्थिक स्थिति को मजबूत करने के लिए सरकार की ओर से अनेक प्रकार की योजनायें चलाई जा रही है. उन्हीं योजनाओं में से सरकार ने पीएम किसान एफपीओ योजना की शुरुआत की है. सरकार द्वारा चलाये गए इस योजना के तहत किसानों को 15 लाख रुपये की सहायता प्रदान की जाती है. इस देश के मेहनती किसानों की बदौलत ही आज भारत दुसरे देशों में फल, सब्जियां, अनाज इत्यादि उत्पाद निर्यात करता है.

तो दोस्तों आइये इस आर्टिकल की मदद से हम जानते हैं की पीएम किसान एफपीओ योजना क्या है, किसानों को एफपीओ खोलने के लिए क्या करना तथा FPO से सम्बंधित सभी जानकारी के बारे में जानेंगे. हम आशा करते हैं की आपको यह जानकारी अच्छी लगेगी. अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगे तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें.

पीएम किसान एफपीओ योजना क्या है

किसान उत्पादक संगठन यानि किसानों के द्वारा बनाई गई एक ऐसा समूह है जो जिसमे कई किसान सामूहिक रूप से जुड़कर खेती की गतिविधियों को संचालित करते हैं. और इस योजना का भरपूर लाभ लेते हैं. एफपीओ योजना के अंतर्गत किसानों को खेतीबाड़ी के लिए खाद, बीज, कीटनाशक, सिंचाई तथा कृषि उपकरण और बैंक से ऋण लेना बहुत ही आसान हो जाता है. सरकार ने 2024 तक फॉर्मर्स प्रोड्यूसर ऑर्गेनाइजेशन(FPO) के तहत 10 हजार किसान संगठन बनाने का लक्ष्य रखा है. इस योजना को सफल बनाने के लिए सरकार 6865 करोड़ रुपये करेगी.

पीएम किसान एफपीओ योजना के फायदे

1.एफपीओ योजना के अंतर्गत किसानों को खेतीबाड़ी के लिए खाद, बीज, कीटनाशक, सिंचाई तथा कृषि उपकरण और बैंक से ऋण लेना बहुत ही आसान हो जाता है.
2.इस योजना के तहत किसानों को कृषि सम्बंधित सामग्री की खरीदारी करते समय सौदेबाजी में आसानी होगी.
3.देश के सभी छोटे तथा सीमांत किसान FPO योजना का लाभ ले सकते हैं.
4.इससे किसानों को ब्यापार तथा भंडारण करने के लिए परिवहन पर होने वाले खर्च पर बचत के साथ लाभ प्राप्त होगा.
5.योजना के तहत संगठनों को केंद्र सरकार की तरफ से 15 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी.

FPO योजना के लिए पात्रता

  • योजना के लिए किसान को भारतीय नागरिक होना अनिवार्य है.
  • किसान के पास अपनी खुद की खेती योग्य जमीन होनी चाहिये.
  • किसानों को समूह का हिस्सा होना चाहिए.
  • पहाड़ी इलाके के एक किसान उत्पादक संगठन में 100 सदस्य होने अनिवार्य है.
  • मैदानी इलाके के एक किसान उत्पादक संगठन में 300 सदस्य होने अनिवार्य है.
  • किसानों को संगठन का नाम रखकर इन्डियन कंपनी एक्ट के अंतर्गत रजिस्टर करवाना होगा.

एफपीओ के लिए आवेदन हेतु दस्तावेज

किसान का स्वयं का आधार कार्डईमेल आईडीस्थाई निवास प्रमाण पत्रबैंक पासबुककैंसिल चेक
खेत के खतौनी की कापीरंगीन पासपोर्ट साइज फोटोराशन कार्डआधार से लिंक रजिस्टर फोन नंबरआय प्रमाण पत्र

एफपीओ योजना में कितने किसान होंगे शामिल

पीएम किसान एफपीओ योजना में किसानों की आर्थिक तौर पर सहायता की जाती है. परन्तु इस योजना का लाभ उन्ही किसानों को दिया जाता है, जो 11 किसान मिलाकर अपनी एक खुद की कंपनी बनाते हैं. अगर ऐसा करते हैं तो वह इस योजना के तहत 15 लाख रुपये का लाभ ले सकते हैं. लेकी इस योजना का लाभ संगठनों को तभी दिया जायेगा जब संगठनों के किसान मिलकर प्रोड्यूसर के लिए काम करें जिससे उनको भी कुछ लाभ हो.

एफपीओ पंजीकरण की प्रक्रिया
  1. एफपीओ पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट https://enam.gov.in/web/ पर विजिट करना होगा.
  2. यहाँ होम पेज पर मेनू बार में FPO के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.
  3. FPO के ऑप्शन पर क्लिक करते ही आपके सामने रजिस्ट्रेशन का विकल्प आ जायेगा, जहाँ आपको क्लिक करना होगा.
  4. क्लिक करते ही आपके सामने NAM Registration form आ जायेगा. जिसमे आपको पूछी गई सभी जानकारियों को ठीक-ठीक भरना होगा.
  5. पुरे फार्म को सही-सही भरने के बाद अंत में Passbook/Cancelled Check और Id Proof को स्कैन करके अपलोड करना होगा.
  6. फार्म को भरने के बाद एक बार जरुर चेक कर लें, और फिर अंत में Get SMS और Get Email पर क्लिक करके सबमिट कर दें. इस तरह आपका पीएम किसान एफपीओ योजना के पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन पूरा हो जयेगा.
  7. रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूर्ण होने पर SMS और Email के द्वारा आपको Registration Acknowledgement की रसीद प्राप्त हो जाएगी.
पीएम किसान एफपीओ योजना संपर्क सूत्र

जो भी किसान FPO योजना के बारे में अधिक जानकारी हासिल करना चाहते हैं. वे अतिरिक्त जानकारी के लिए कृपया टोल-फ्री नंबर 1800 270 0224 पर संपर्क करें. या आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ.

FAQ:

Q… एफपीओ से किसान को क्या क्या लाभ मिल सकता है?

ANS… एफपीओ योजना के अंतर्गत किसानों को खेतीबाड़ी के लिए खाद, बीज, कीटनाशक, सिंचाई तथा कृषि उपकरण और बैंक से ऋण आदि सुविधाएँ दी जाती है.

Q… FPO का पूरा नाम क्या है?

ANS… एफपीओ का फुल फॉर्म “फॉर्मर प्रोड्यूसर ऑर्गेनाइजेशंस”

Q… सर्वप्रथम एफपीओ की स्थापना कब हुई थी?

ANS… 16 अक्टूबर, 1945 को क्यूबेक नगर, कनाडा में हुई थी.

Q… पीएम किसान FPO योजना के क्या लाभ मिलते हैं?

ANS… FPO योजना के तहत सरकार द्वारा देश के किसानों को 15 लाख रूपये तक की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है.

यह भी पढ़ें…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here