kitnashak ka chhidkav kaise kare | कीटनाशकों का छिड़काव कैसे करें

नमस्कार किसान भाइयों आज हम आपको फसलों में कीटनाशकों का छिड़काव कैसे करें (How to spray pesticides) तथा pesticides का छिड़काव करते समय क्या सावधानियां रखनी चाहिए इसके बारे में आपको जानकारी देने जा रहे हैं, मैं उम्मीद करता हूँ की आपको यह जानकारी पसंद आएगी।

फसलों को रोगों से बचाने तथा अधिक पैदावार लेने के लिए किसान रसायनों का अंधाधुंध प्रयोक कर रहे है लेकिन यह भूल जाते हैं की रसायन का उपयोग स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक होते हैं।

अक्सर देखा जाता है कि बहुत से किसान जल्दबाजी में कीटनाशक का घोल बना लेते हैं और स्प्रे मशीन से फसलों पर रसायनों का छिड़काव शुरू कर देते हैं।और यह भूल जाते हैं कि प्रयोग के दौरान किसान के स्वास्थ्य पर इसका सबसे अधिक प्रभाव पड़ता है।

फसलों में kitnashak ka chhidkav kaise kare

  • फसलों पर जब भी Chemicals का छिड़काव करने जाएँ सबसे पहले अपने आप को पूरी तरह से ढकें.
  • दवाओं का छिड़काव हमेशा शाम को ही करना चाहिए.
  • सर्दियों के मौसम में कीटनाशकों का छिड़काव सुबह के समय ओस ख़त्म होने के बाद करें.
  • फसलों पर रसायनों का छिड़काव करने से पहले दवा को अच्छी तरह से घोलकर ही प्रयोग करें.
  • छिड़काव करते समय यदि तेज हवा चलने चले तो इस बात का ध्यान दें की दवा का स्प्रे हमेशा हवा की उल्टी दिशा में करें.
  • तेज हवा चलने पर दवा का छिड़काव करते हुए उल्टी दिशा में पीछे की और जाना चाहिए.
  • बेल वाली सब्जियों में रसायनों का छिड़काव शाम को करना चाहिए क्यों सुबह के समय परागण होती है.
  • रसायनों का छिड़काव करते समय मित्र कीटों का भी खस ध्यान रखे क्योंकि मित्र कीटों द्वारा ही फसलों में परागण की क्रिया होती है.
  • कृषि वैज्ञानिकों द्वारा बताई गई मात्रा के अनुसार ही कीटनाशकों का घोल बनाना चाहिए.
  • कीटनाशकों के छिड़काव के समय इस बात का घ्यान दें की किसी भी प्रकार का पान, गुटका या जलपान ना करे.

यह भी पढ़ें- 

FAQ

फसलों में कीटनाशकों का छिड़काव कब करें?

फसलों में कीटनाशकों का छिड़काव हमेशा शाम को ही करना चाहिए. क्योंकि सुबह के समय फसलों में परागण की क्रिया होती है.

कीटनाशक कितने प्रकार के होते हैं?

कृषि में उपयोग किये जाने वाले कीटनाशक मुख्य रूप से 3 प्रकार के होते हैं.
घोल के रूप में.
पाउडर के रूप में.
दानेदार रूप में.

कोराजन का उपयोग कैसे करें?

कोराजन एक प्रकार का कीटनाशक है इसका उपयोग विभिन्न फसलों में लगने वाले फल छेदक,ताना छेदक कीटों को नियंत्रित करने के लिए किया जा सकता है, इसकी 5ml दवा को 15 लीटर पानी घोल बनाकर फसलों में छिड़काव करना चाहिए.

कोराजन कितने रुपए की है?

कोराजन की कीमत विभिन्न क्षेत्रों में 10 ml 180 रुपये से लेकर 220 रुपये में मिल जाती है.

फसलों में कीटनाशकों का छिड़काव कब करें?

फसलों में कीटनाशकों का छिड़काव हमेशा शाम को ही करना चाहिए. क्योंकि सुबह के समय फसलों में परागण की क्रिया होती है.

Next articleGamale ki mittee ko upajaoo kaise banaen | गमले की मिट्टी को उपजाऊ कैसे बनाएं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here