50% सब्सिडी पर लगायें प्लास्टिक मल्चिंग, पाली हॉउस और शेडनेट, जानें पूरी जानकारी

50% सब्सिडी पर लगायें प्लास्टिक मल्चिंग, पाली हॉउस और शेडनेट

किसानों को प्रतिकूल मौसम में खेती में होने वाले हानि से बचाने के लिए सरकार समय-समय पर कृषि से सम्बंधित योजनायें लाती रहती है. इन्हीं योजनाओं में से एक है संरक्षित खेती. जो सरकार की ओर से किसानों को प्रोत्साहित किया जा रहा है. अतः सरकार किसानों की आवश्यकता को देखते हुए प्लास्टिक मल्चिंग, पाली हॉउस, शेडनेट हॉउस लगवाने के लिए 50% सब्सिडी प्रवाहित करती है. तो दोस्तों चलिए हम आपको बताते हैं की प्लास्टिक मल्चिंग, पाली हॉउस, शेडनेट हॉउस के लिए किस राज्य के किसान आवेदन कर सकते हैं.

प्लास्टिक मल्चिंग

सब्जियों तथा फूलों की खेती करने के लिए किसान प्लास्टिक मल्चिंग का प्रयोग करते हैं. खेतों में प्लास्टिक मल्चिंग के प्रयोग से खरपतवार से फसल को मुक्त रखा जाता है. जिससे सब्जियों तथा फूलों की खेती में रोग और कीट कम लगते हैं और पैदावार अधिक होती है. ऐसे में जो भी इच्छुक किसान अपने खेतों में उच्च कोटि के सब्जी तथा फूलों की खेती के लिए प्लास्टिक मल्चिंग का निर्माण करना चाहते हैं तो उनको सरकार 4000 वर्ग क्षेत्र के लिए 50% अनुदान देती है.

पाली हॉउस/ग्रीन हाउस

विपरीत मौसम से फूलों और सब्जियों की खेती को होने वाले हानि से बचाने के लिए सरकार ने किसानों को खेतों में पाली हॉउस निर्माण के लिए 50% अनुदान देने का फैसला लिया है. पाली हॉउस में किसान समय से पहले सब्जियों को अनुकूल वातावरण प्रवाहित करके उनको मंडियों में बेचकर अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं.

शेडनेट हॉउस

सब्जियों और फूलों की खेती से अधिक उत्पादन लेने के लिए प्लास्टिक मल्चिंग और पाली हॉउस की तरह शेडनेट हॉउस भी खेती का एक हिस्सा है. शेडनेट हॉउस निर्माण के लिए भी सरकार 4 हजार वर्ग मीटर लगवाने के लिए सरकार किसानों को इकाई लागत का 50 फीसदी अनुदान दिया जाता है.

किन जिलों के किसानों को मिलेगा इनका लाभ
प्लास्टिक मल्चिंगइंदौर, रायसेन, देवास, गुना, उज्जैन, होशंगाबाद, दतिया, रतलाम, मंदसौर, आगरा मालवा.
पाली हॉउसदतिया, मंदसौर, इंदौर, राजगढ़, रायसेन, मंडला, रतलाम, जबलपुर, उज्जैन, गुना, खंडवा, खरगौन, आगरा मालवा.
शेडनेट हॉउसदतिया, खरगौन, इंदौर, सीहोर, खंडवा, आगरा मालवा, झाबुआ, उज्जैन, धार, जबलपुर, टीकमगढ़.
प्लास्टिक मल्चिंग, पाली हॉउस, शेडनेट हॉउस आवेदन हेतु दस्तावेज
  • आधार कार्ड
  • खतौनी
  • बैंक स्टेटमेंट
  • रंगीन पासपोर्ट साइज फोटो
  • आधार लिंक फोन नंबर
  • तहसील द्वारा प्रमाणित जाती प्रमाण-पत्र
  • तहसील द्वारा प्रमाणित निवास प्रमाण-पत्र
प्लास्टिक मल्चिंग, पाली हॉउस, शेडनेट हॉउस हेतु कहां करें आवेदन

किसान अपने खेतों में प्लास्टिक मल्चिंग, पाली हॉउस, शेडनेट हॉउस लगवाने के लिए उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग मध्य प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होता है.

इन्हें भी पढ़ें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here