गेंदा का फूल कैसे उगाए | हजारा गेंदा फूल की खेती

यदि हजारा गेंदा फूल की खेती की बात करें तो हजारा फूल की खेती पुरे साल बहुत ही आसानी से की जाती है. और शादी-विवाह तथा पूजा-पाठ के लिए बाजार में वर्ष भर हजारे के फूल की डिमांड रहती है गेंदे की फसल में लागत काफी कम होती हैं, और आमदनी लागत की अपेच्छा बहुत अधिक होती है।

गेंदा का फूल कैसे उगाए, हजारा गेंदा फूल की खेती

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको gende ka phool kaise ugaye(गेंदा का फूल कैसे उगाए) तथा हजारा गेंदा फूल की खेती में किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए इसी के बारे में जानकारी देने जा रहें हैं आशा करता हूँ, की आपको यह पोस्ट अच्छी लगेगी।

गेंदा का फूल कैसे उगाए(gende ke phool kaise ugaye)

हजारा गेंदा फूल की खेती कोई भी इच्छुक किसान बहुत कम लागत में शुरू कर सकते हैं. genda ki kheti करने की लिए खेत की तैयारी के समय ही गोबर की खाद डाल देनी चाहिए। तथा अंतिम जुताई से पहले 80 किलोग्राम यूरिया, 120 किलोग्राम डीएपी तथा 60 किलो म्यूरेटओफ पोटाश प्रति एकड़ डालना चाहिए।

गर्मी में गेंदा फूल की खेती(garmee mein genda phool ki kheti)

यदि गर्मियों के मौसम में गेंदे का फूल की खेती किसान करते हैं तो इन दिनों शादी का सीजन होता है. और शादियों में हजारा का फूल स्टेज सजाने, दुल्हे की गाड़ी सजाने, मंडप सजाने, सेज सजाने जैसी बहुत से डेकोरेशन के लिए genda phool mala की जरुरत होती है, इसलिए इन दिनों गेंदा फूल का रेट बहुत महंगा होता है.

गेंदा के फूल का बीज(phool kaise ugaye)

बहुत से नए किसनो की यह समस्या होती है की गेंदा फूल का बीज कहां मिलता है. और गेंदा के फूल का बीज कहाँ से प्राप्त करें तथा अच्छे किस्मों के गेंदा के बीज उत्पादन के लिए किस तरह के hajara ka phool उपयोग में लेना चाहिए।

हजारा गेंदा फूल की खेती इसके पौधे की कटिंग या इसके बीजों की नर्सरी डालकर किया जाता है यदि किसान गेंदा फूल के पौधों की कलम तैयार करके इसकी खेती करना चाहते हैं तो जून से लेकर सितम्बर तक बारिश के मौसम में इसकी कटिंग से कलम तैयार करके इसकी खेती कर सकते हैं।

और यदि किसान गेंदा फूल के बीजों(gende ke beej) की नर्सरी डालकर पौधे तैयार करना चाहते हैं तो जनवरी के महीनों में जब खेत में गेंदे के फूल पूरी तरह से खिलकर मुरझा जाएँ तब फूलों को तोड़कर उसे उसकी पंखुड़ियों को अलग-अलग करके गेंदा के बीज का उपयोग नर्सरी डालने के लिए करना चाहिए।

गेंदा की खेती का समय(gende ki kheti ka time)

हजारा गेंदा फूल की खेती को पुरे वर्ष सर्दी, गर्मी एवं वर्षा तीनों मौसम में किया जाता है लेकिन इसके सही समय की बात करें तो खरीफ सीजन में गेंदे की रोपाई का समय जून से लेकर अगस्त तक किया जाता है। जिसमे सितंबर से अक्टूबर तक फूल खिलने लगते हैं।

गेंदा फूल से अच्छी आमदनी कमाने के लिए जून और जुलाई में गेंदे के पौधे लगाये जाते हैं। जो नवरात्रि और दीपावली पर निकलने लगते है। इन नवरात्रि और दीपावली जैसे त्योहारों पर गेंदा फूल का रेट आसमान छूने लगता है. गेंदा के फूल को गजरा यानि माला बनाकर तथा इसको फुटकर दोनों तरह से मार्किट में बेचा जाता है।

गेंदा फूल की खेती से लाभ(Benefits of marigold flower cultivation)

  • हजारे का फूल कम खर्च में अच्छा मुनाफा देता है.
  • गेंदा phool ki kheti से भूमि की उपजाऊ शक्ति लम्बे समय तक बरकरार रहती है.
  • genda ke फूल से बने अर्क का सेवन कैंसर, ह्रदय रोग तथा स्ट्रोक को रोकने में सहायक होता है.
  • गेंदे के फूल से तेल को निकालकर उसका प्रयोग खुशबूदार उत्पाद बनाने में भी किया जा रहा है.
  • नवरात्र के दिनों में पूजा पाठ के लिए गेंदा फूल का रेट बहुत हाई होता है. जिससे कमाई भी अधिक होती है.
  • गेंदा फूल का रेट 2021 में प्रति गजरा 20 से लेकर 35 रूपये तक था.

QNA

गेंदा का वानस्पतिक नाम क्या है?

गेंदा का वानस्पतिक नाम Tagetes है।

हजारा गेंदा का बीज कितने रुपये प्रति ग्राम हैं?

हजारा गेंदा का 0.02 Kilograms बीज 120 रुपये में मिलता है।

हजारा गेंदा फूल का बीज कहां मिलेगा?

हजारा गेंदा फूल का बीज खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करें या upagricultur@gmail.com करें।

गेंदे के पौधे में कौन सी खाद डालें?

गेंदे के पौधे में खेत की तैयारी के समय ही गोबर की खाद डाल देनी चाहिए। तथा अंतिम जुताई से पहले 80 किलोग्राम यूरिया, 120 किलोग्राम डीएपी तथा 60 किलो म्यूरेटओफ पोटाश प्रति एकड़ डालना चाहिए।

गेंदा फूल को किस फसल के साथ में सह फसल के रूप में लिया जा सकता है?

गेंदा फूल के साथ में सह फसल खेती करने की लिए गन्ने की को लिया जा सकता है।

गेंदा के फूल के बीज किस जगह से खरीदी जाए जिससे अच्छी किस्म के फूल मिले?

गेंदा के पौधे से अच्छी किस्म के फूल एवं अधिक पैदावार लेने के लिए उत्मितर प्लेरदेश के वाराणसी जिले से पौधे खरीदने चाहिए.

क्या पपीता के साथ गेंदा की खेती कर सकते हैं?

पपीता का पौधा बड़ा होने के कारण गेंदा के फूलों की खेती पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ता इसलिए पपीता के पौधे के साथ-साथ गेंदा के फूल को सह फसली के रूप में लगाया जा सकता है।

यह भी पढ़ें – असली खाद की पहचान कैसे करें

Previous articlehighest egg-laying chicken । सबसे ज्यादा अंडे देने वाली मुर्गी की नस्ल
Next articleNabard Pashupalan loan Yojana | नाबार्ड पशुपालन लोन योजना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here